मौसम सुचना के लिए आईबीएम के साथ समन्वय

केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने मौसम सुचना और मिट्टी की नमी की जानकारी किसानों को उपलब्ध कराने के लिए आईटी दिग्गज आईबीएम (IBM)  के साथ करार (statement of intent )किया है।

इस योजना के तहत, भोपाल (मध्य प्रदेश), राजकोट (राजस्थान) और नांदेड़ (महाराष्ट्र) के तीन जिलों में चालू खरीफ सीजन में प्रायोगिक आधार पर लागू किया जाएगा।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि मौसम की जानकारी किसानों तक पहुंचेगी और उनकी उत्पादकता बढ़ाएगी।

इसके अलावा, समग्र कृषि क्षेत्र विकसित होने में मददगार साबित होगा।

किसानों को बाढ़, बारिश ना होना, हिमपात जैसे समस्या को सामना करना पड़ता है।

मौसम सुचना की समय पर उपलब्धता ना होने के कारण, किसानों की फसल बर्बाद हो जाती है।

मौसम सुचना

http://www.nwclimate.org/

आईबीएम के वाटसन डिसिजन प्लॉट फॉर्म कृत्रिम बुद्धिमत्ता (artificial intelligence)

की मदद से ग्रामीण स्तर पर मौसम सुचना और मृदा की नमी की जानकारी देगा।

मौसम सुचना और मृदा की नमी कीजानकारी किसानों को फसल की खेती और प्रबंधन के बारे में निर्णय लेने में मदद करेगी।

सभी क्षेत्रों में कृत्रिम बुद्धिमत्ता का उपयोग बढ़ा है।

कृषि क्षेत्र उनसे बहुत पीछे था।

आईबीएम की मदद से इस कमी को दूर करने में मदद मिलेगी।

Facebook Comments
error: Content is protected !!