गिरवी संपत्ति की कुंडली|koonbeek.com

भारतीय प्रतिभूतिकरण परिसंपत्ति पुनर्निर्माण और प्रतिभूति स्वत्व की केंद्रीय रजिस्ट्री अर्थात cersai यह भारत सरकार द्वारा स्थापित केंद्रीय रजिस्ट्री है।

cersai
Wikipedia

जमीन या इमारत जैसे अचल संपत्ति पर बैंक, वित्तीय संस्थाओं के पास गिरवी रखकर लोन दिया जाता है। अचल संपत्ति पर दिए हुए लोन का केंद्रीय डेटाबेस आज तक सरकार के पास उपलब्ध नहीं था।

केंद्र सरकार ने 11 मार्च 2011 cersai इस कंपनी की स्थापना की। इस कंपनी में प्रमुख शेअर होल्डर नेशनलाइज बैंक और नेशनल हाउसिंग कॉरपोरेशन हैं।

Cersai एक पब्लिक सेक्टर कंपनी है। इस कंपनी की सेवा भारत का हर एक नागरिक बहुत कम दामों में प्राप्त कर सकता है।

Cersai का उद्देश्य एक ही अचल संपत्ति अनेक बैंक और वित्तीय संस्थाओं के पास गिरवी रखकर बैंकों के साथ जो धोखाधड़ी होती थी ऐसी गतिविधि से बचाव करना है।

Cersai

विस्तारित नाम है Central Registry of Securitisation, Asset Reconstruction and Security Interest of India एक केंद्रीय डाटाबेस हैं।

जिसमें अचल संपत्तियों जैसे कि भूमि और इमारत आदि विवरण होता है जो विभिन्न बैंकों को गिरवी रखे जाते हैं।

गिरवी रखी गई संपत्ति को साकार करने पर बैंकों को CERSAI वेबसाइट में डीटेल्स अपडेट करने की जरूरत है ।

वित्तीय धोखाधड़ी से बचे

जब हम कुछ प्रॉपर्टी खरीदने की कोशिश करते हैं तो उसके बारे में अधिकतर जानकारी हमारे पास नहीं होती।

कई बार हमारे साथ प्रॉपर्टी की खरीदारी में धोखाधड़ी होने की संभावना होती है।

अगर हम खरीदने वालें प्रॉपर्टी पर पहले से ही लोन है या उस प्रॉपर्टी को किसी बैंक वित्तीय संस्था के पास गिरवी रखा गया हो तो उसके बारे में अधिकतर जानकारी हमारे नहीं होती।

ऐसी परिस्थिति में cersai महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

गिरवी प्रॉपर्टी

गिरवी रखी हुई प्रॉपर्टी अगर गलती से भी हम करें देखें बकाया लोन चुकाने का उत्तरदायित्व हम पर ही आ जाता है। हमारी जमा की हुई पूंजी एक ही क्षण में नष्ट हो जाती है।

ऐसी स्थिति से निपटने के लिए या बचने के लिए सरकार ने cersai इस संस्था की स्थापना की है। सरसाई संस्था की मदद से हम वित्तीय धोखाधड़ी से बच सकते हैं।

वित्तीय धोखाधड़ी से बैंकों बड़ी परेशानी होती थी। फर्जी एक ही प्रॉपर्टी को अनेक बैंकों के पास गिरवी रखकर बैंकों के साथ भी धोखाधड़ी करते हे

सरसाई और सिबील

Cersai यह सुविधा एक तरह से सिबील जैसा ही काम करता है। सिबील के पास जैसे हर एक ॠणको (कर्जदार) का रिकॉर्ड होता है वैसे ही सरसाई गिरवी रखी हुई हर एक अचल संपत्ति का रिकॉर्ड जमा होता है।

website

कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले आप सरसाई वेबसाइट पर जाकर उसके बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

सिर्फ ₹10 में आप प्रॉपर्टी के बारे में डिटेल में रिपोर्ट्स देख सकते हैं साथ में उसे डाउनलोड करके भी रख सकते हैं।

Entity registration

व्यक्तिगत उपभोक्ता cersai का लाभ लेने के लिए पंजीकरण कर सकता है। अपने डिजिटल सिगनेचर सर्टिफिकेट के साथ आप वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं।

Other creditor user registration

इस केटेगिरी में हिंदू अविभक्त फैमिली, व्यक्तिगत यूजर और प्रोपराइटरशिप फर्म यहां पर पंजीकरण डिजिटल सिगनेचर सर्टिफिकेट और सीकेवाईसी का उपयोग करके प्रक्रिया पूरी कर सकते

ऑनलाइन पब्लिक सर्च

Cersai तीन प्रकार की सेवाएं उपलब्ध कराता है। जो विभिन्न बैंकों तथा वित्तीय संस्थाओं के पास गिरवी रखी हुई हैं।

असेट बेस्ड सर्च

मकान बनाने के लिए बैंकों से लोन दिया जाता है। एक प्रकार से जिस मकान बनाने के लिए हम अपना घर मकान बैंकों के पास गिरवी रखते हैं।

डिबेटर बेस्ड

  1. Cersai क्या है ?

    CERSAI एक केंद्रीय डाटाबेस है जिसमें अचल संपत्तियों जैसे कि भूमि और इमारत आदि विवरण होता है जो विभिन्न बैंकों को गिरवी रखे जाते हैं। गिरवी रखी गई संपत्ति को साकार करने पर बैंकों को CERSAI वेबसाइट में डीटेल्स अपडेट करने की जरूरत है ।

  2. Cersai का क्या महत्व है?

    Cersai निर्माण का एक ही अचल संपत्ति जैसे कि जमीन प्लॉट या इमारत विभिन्न बैंकों में तथा वित्तीय संस्थाओं में गिरवी रखकर होने वाली धोखाधड़ी, ऐसी गतिविधि की जांच और पहचान करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *